AdSense code

Wednesday, December 14, 2011

आज का विचार - 14/12/11

अगर आप अपनी असफ़लताओं को याद करके अपने मन को निराश रखने लगे तो कुछ बनने की शक्ति समाप्त हो जाती है।

परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

If you stay frustrated or dissapointed by remembering your failures then the power of your potential to be something, diminishes.
Translated by Humble Devotee
Praveen Verma